Tuesday, October 19, 2021
Home Quotes Indian Army Status in Hindi (DEC 2021) | Fauji Status

[100+] Indian Army Status in Hindi (DEC 2021) | Fauji Status

[100+] Indian Army Status in Hindi (DEC 2021) | Fauji Status

जो जीता है.. दूसरों के लिए, वही एक फौजी कहलाया..!!

आर्मी तो है देश की शान, जिन्दादिली है जिसकी पहचान..!!

ना जुबान से, ना निगाहों से, न दिमाग से, न रंगों से, ना ग्रीटिंग से, ना गिफ्ट से, आपको इंडियन आर्मी डे मुबारक, डायरेक्ट दिल से..!!

मेरी आन तिरंगा, मेरी शान तिरंगा, इस तिरंगे को शत-शत नमन…

जो अब तक ना खौला,वो खून नहीं पानी है,जो देश के काम ना आए,वह बेकार जवानी है!!

कोई छूटा हुआ, भारत का टुकड़ा,कश्मीर पाने की कोशिश कर रहा है! जैसे कोई टूटा हुआ नाखून, फिरहाथ पाने की कोशिश कर रहा है…!!

जो अब तक ना खौला, वो खून नहीं पानी है, जो देश के काम ना आए, वह बेकार जवानी है..!!

देश भक्तों के बलिदान से स्वतंत्र हुए है, हम….. कोई पूछे कौन हो तुम तो गर्व से कहना हिंदुस्तानी है, हम

हमारी दिवाली में रोशनी इसलिए हैं क्योंकि सरहद पर अँधेरे में कोई खड़ा हैं.

वो ज़िन्दगी ए के जिसमे देश भक्ति ना हो.अर वा मौत ए के जो तिरंगे म ना लिपटी हो. जय हिन्द

खुशनसीब है वो जो वतन पर मिट जाते हैं,मरकर भी वो लोग अमर हो जाते हैं,करता हूं उन्हें सलाम ऐ वतन पर मिटने वालों,तुम्हारी हर सांस में तिरंगे का नसीब बसता है…!!

जो खतरा त लड़ा करे वो खिलाडी होया करै.पर जो गर्दन कटे बाद भी दुश्मन ने मारा करै वो फौजी होया करै.

देश के लोगों की खुशियों के लिए जो अपनी ख़ुशी भी त्याग दे, ऐसा दम एक फौजी ही रख सकता है।

ना किसी हुस्न की चाहत हैमेरा तिरंगा ही मेरी ताकत हैमैं तो आशिक हूं इस तिरंगे काऔर मेरा महबूब मेरा भारत है

खुमार तेरे इश्क का ऐसा चढ़ा है वतन की सुबह का पहला शब्द वंदेमातरम् ही होता है..!!

हम भारतीय सेना पुरे दम ख़म से लड़ते है क्योंकि जंग में कोई दूसरा स्थान नहीं होता।

आओ तिरंगे का सम्मान करे, शहीदों की शहादत याद करे.

अपना घर छोड़ कर, सरहद को अपना ठिकाना बना लिया,जान हथेली पर रखकर, देश की हिफाजत को अपना धर्म बना लिया.

न सर झुका है कभी..और न झुकायेंगे कभी,जो अपने दम पे जियें…सच में ज़िन्दगी है वही.

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर लें, शहीदों के दिल में थी वो ज्वाला याद कर लें, जिसमे बहकर आज़ादी पहुची थी किनारे पे, देशभक्तों के खून की वो धरा याद कर लें.!!

मेरी आन तिरंगा, मेरी शान तिरंगा,इस तिरंगे को शत-शत नमन.

आसान कोनी फौजी बनना,दूसरा की खुशियां खातर मरना पड़ा करै.

फौजी की मौत पर परिवार को दुख कम,और गर्व ज्यादा होता है,ऐसे सपूतों को जन्म देकर,मां का कोख भी धन्य हो जाता है…

कुछ नशा तिरंगे की आन का है, कुछ नशा मातृभूमि की शान का है, हम लहरायेंगे हर जगह ये तिरंगा, नशा ये हिंदुस्तान की शान का है.

हमारा झण्डा इसलिए नहीं फहराता कि हवा चल रही होती है,ये हर उस जवान की आखिरी साँस से फहराता हैजो इसकी रक्षा में अपने प्राणों का उत्सर्ग कर देता है।

दुशमनो को पहुँचाऊँगा कब्र के देशतेरे वास्ते कफन पहनूंगा मै तिरंगे सा खेश.

ऊन दो आँखों के आगे समंदर भी हारा होगाजब मेंहदी वाली हाथो ने मंगलसूत्र उतारा होगा.

मरने के बाद भी जिसके नाम मे जान हैं,ऐसे जाबाज़ सैनिक हमारे भारत की शान है देश के उन वीर जवानों को सलाम.

चीर के बहा दूं लहू दुश्मन के सीने का ,यही तो मजा है फौजी होकर जीने का।।

काँप उठा वो विशाल पर्वत जब फौजी ने लगाई दहाड़..!!

दूध मांगोगे तो खीर देवांगे,कश्मीर मांगेंगे तो लाहौर भी खोस लेवांगे.

अगर तुम हमारे घर में घुसने की कोशिश करोगे तो हम तुम्हारे घर में घुस के तुम्हे मारेंगे।

हम तिरंगे को लहरा कर आएंगे या फिर तिरंगे में लिपट कर आयंगे। – भारतीय सेना

सीमा नहीं बना करतीं हैं काग़ज़ खींची लकीरों से,ये घटती-बढ़ती रहती हैं वीरों की शमशीरों से.

देश प्रेम को मरहम बनाना सीख लें, हारना तो है सब को 1 दिन मौत से, फिलहाल देश के लिए जीना सीख लें..!!

कश्मीर में सर्दी नहीं होती,मुंबई में गर्मी में नहीं होती,हम भी घर जाके हर त्यौहार मनाते,अगर हमारे जिस्म में यह वर्दी नहीं होती.

जिसकी वजह त सारा देश चैन की साँस सोया करै.वो फौजी होया करै.

सरहद पर एक फौजी अपना वादा निभा रहा हैं,वो धरती माँ की मोहब्बत का कर्ज चुका रहा हैं.

मुझे तन चाहिए ना धन चाहिए, बस अब मन से भरा यह बताना चाहिए, जब तक जिंदा रहूं, इस मातृभूमि के लिए, और जब मरू दूध रंगे तिरंगा कफन चाहिए.

वतन की मोहब्बत में, खुद को तपाये बैठे हैं,मरेंगे वतन के लिए, शर्त मौत से लगाये बैठे हैं..

जिनमे अकेले चलने के हौसले होते हैं, एक दिन उन्ही के पीछे काफिले होते हैं, सेना है तो हम हैं..!!

जिस ज़िंदगी को तुने “फ़िक्र” में जिया, उस ज़िंदगी को उसने “फक्र” से जिया अंतर बस इतना था की तू जिया “वेतन” के लिए और वो जिया “वतन” के लिए..!!

आओ झुक कर करें सलाम उन्हें,जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है,कितने खुशनसीब हैं वो लोग,जिनका खून वतन के काम आता हैं…

जब भर्ती हुआ फौज मे उसी दिन दो कफ़न खरीद लिये थे….एक खुशियों को ओढ़कर दूसरा घरवालो को दे आये थे..!!

लिपट कर बदन तिरंगे में कई आज भी आते हैं,यूं ही नहीं दोस्तों हम आज़ादी का ये जश्‍न मनाते हैं!!!

बाज़ी लगा देंगे अपनी जान की, जब बात चलेगी हिंदुस्तान की।

वो लड़की बहुत खुश किस्मत होती है।जिसकी शादी के फौजी के साथ होती है।

वतन की मोहब्बत में, खुद को तपाये बैठे हैं,मरेंगे वतन के लिए, शर्त मौत से लगाये बैठे हैं..!!

न झुकने दिया तिरंगे को न युद्ध कभी ये हारे हैं, भारत माता तेरे वीरों ने दुश्मन चुन चुन कर मारे हैं..!!

रिव्वायत सी बन गयी हैं देशभक्ति तो जनाबबस लोग तारीखों पर फर्ज अदा करते हैं.

हर वक़्त मेरी आँखों में देशप्रेम का स्वप्न हो, जब कभी भी मृत्यु आये तो तिरंगा मेरा कफन हो! और कोई ख़्वाहिश नही ज़िन्दगी में, जब कभी जन्म लू तो भारत मेरा वतन हो..!!

फौजी भी कमाल के होते हैं,जेब के छोटे बटुए में परिवार,और दिल मे सारा हिंदुस्तान रखते हैं..!!

आओ तिरंगे का सम्मान करे,शहीदों की शहादत याद करे.

हमारा झण्डा इसलिए नहीं फहराता कि हवा चल रही होती है, ये हर उस जवान की आखिरी साँस से फहराता है! जो इसकी रक्षा में अपने प्राणों का उत्सर्ग कर देता है..!!

आर्मी तो है देश की शान,जिन्दादिली है जिसकी पहचान.

वो तिरंगे वाली डीपी हो तो लगा लो जरा…सुना है कल देशभक्ति दिखाने वाली तारीख है..!!

कभी ठंड में ठिठुर कर देख लेना, कभी तपती धूप में जल के देख लेना, कैसे होती हैं हिफाजत मुल्क की, कभी सरहद पर चल कर देख लेना..!!

आसान नहीं है फौजी बनना, रगो में जज्बात की जगह लोहा भरना पड़ता है।

हम चैन से सो पाए इसलिए ही वो सो गया,वो भारतीय फौजी ही था जो आज शहीद हो गया.

देशप्रेम का दीपक यूँ ही हम सबके दिलो में जलता रहे.जब तक जिए तब तक देश के सेवा करें

खुमार तेरे इश्क का ऐसा चढ़ा है वतनकी सुबह का पहला शब्द वंदेमातरम् ही होता है!

ईश्वर हमारे दुश्मनों पर दया करे,क्योंकि हम तो करेंगे नहीं।”– भारतीय सेना

ऊन दो आँखों के आगे समंदर भी हारा होगा, जब मेंहदी वाली हाथो ने मंगलसूत्र उतारा होगा..!!

हौसला बारूद रखते हैंवतन के कदमो मे जान मौजूद रखते हैं, हस्ती तक मिटा दे दुशमन कीहम फौजी है फौलादी जिगर रखते हैं। -जय हिंद

कश्मीर में अब कोई दरवाजा भी खटखटाता है! तो अफजल अंदर से चिल्लाता है, “भारत माता की जय”

इस लिए वो कुर्बान हो गया, क्योंकि अपने देश के लोगों को जो बचाना था।

कौन कहता है पहली नजर में इश्क नहीं होता,वतन से किया था आज तक वफा निभा रहा रहा हूं…

जिक्र अगर हीरो का होगा तो नाम हिंदुस्तान के वीरों का होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

[50+] Hurt Shayari in Hindi with Images (OCT 2021)

you someone Injured have done? we have brought best heart shayari in hindi Read and share your feelings on Whatsapp, Facebook and...

[100+] Friendship Shayari in Hindi (SEP 2021)

क्या आप Friendship Shayari ढूंड रहे है? पढ़िए Best Friendship Shayari in Hindi और शेयर करिए Whatsapp, Facebook और Instagram पर दोस्तों के...

[50+] Dil Shayari in Hindi (SEP 2021) | दिल शायरी

we have brought Dil Shayari read and share in Best Dil Shayari in Hindi with BF, Husband, Wife or GF on Facebook, Whatsapp...

Recent Comments